मंगलवार, 29 नवंबर 2011

दर्शन देवो आज : Darshan devo aaj Hanuman: Sanjay Mehta Ludhiana








दर्शन देवो आज

हनुमत हनुमत कब से पुकारू, दर्शन देवो आज
तेरे बिन नैया , कौन लगावे पार
हनुमत हनुमत कब से पुकारू, दर्शन देवो आज

लंका फूंकी, सेना फूंकी, कर दियो सारो नाश
रावण को भीषण समझावे, जप लो हरि का नाम
नहीं तो मिटा देंगे , जग से तेरा वो नाम
हनुमत हनुमत कब से पुकारू, दर्शन देवो आज

बाबा मेरा सबकी सुनता, करता सबसे प्यार
सच्चे मन से जो भी बुलावे, आता है हर बार
हरि की दया बिन, जीना बड़ा है बेकार
हनुमत हनुमत कब से पुकारू, दर्शन देवो आज

बूटी लेकर पल मे आये, किया था जग मे कमाल
मूर्छा टूटी जब लक्ष्मण की, राम हए हैरान
हनुमत ने देखो, कैसा किया कमाल
हनुमत हनुमत कब से पुकारू, दर्शन देवो आज

सच्ची भक्ति के ही कारण, सिने मे है राम
नहीं डरते वो दुश्मन से भी, कर गए सारे काम
अंजनी माँ के , लाडले हम हनुमान
हनुमत हनुमत कब से पुकारू, दर्शन देवो आज

बोलिए जय जय श्री राम
बोलिए जय जय हनुमान
बोलिए जय जय माँ
बोलिए जय माता दी जी
जय माँ राज रानी की
जय माँ वैष्णो रानी की जय









कोई टिप्पणी नहीं: