रविवार, 6 मई 2012

Question








तुम मंदिर में श्री राम जी का दर्शन करते हो, उस समय शायद तुमको ऐसा लगता है के जैसे मेरे हाथ-पैर हो, वैसे ही हाथ-पैर ठाकुर जी के भी है, परन्तु अपने शरीर में और ठाकुर जी के स्वरूप में बहुत अंतर है, अपने शरीर का विचार करोगे तो ध्यान में आएगा की इस शरीर के अंदर रुधिर है, मॉस है, मज्जा है, हड्डी है, श्रीराम जी के श्रीअंग में ना तो रुधिर, ना मॉस, ना मज्जा और ना हाड है, है तो केवल आनंद. आनंद के अलावा दूसरा कुछ भी नहीं



आज का सवाल
श्री राम जी की कथा सुनने के लिए हनुमान जी यही पर पृथ्वी पर रह रहे है. वैकुण्ठ गये नहीं, हनुमान जी महाराज अजर-अमर है सप्त-चिरंजीवियो में हनुमान जी की गिनती है , तो बाकी के 6 चिरंजीवी कौन है


Sanjay Mehta








1 टिप्पणी:

sanjay mehta ने कहा…

1) Ashwattama

Ashwatthama was the son of Dronacharya and is one of the characters from the epic Mahabharata.

2) Mahabali

King Bali or Maveli was the grandson of Prahlada and was a benevolent Asura king.

3) Sage Vyasa

Vyasa Maharshi or Veda Vyasa was the sage who narrated the epic Mahabharata. Vaishnavites regard Vyasa as an avatar of Lord Vishnu.

4) Lord Hanuman

Also known as Bajrang Bali, Hanuman is one of the main characters of epic Ramayana. Hanuman is an ardent devotee of Lord Ram.

5) Vibhishana

Vibhishana or Bibhishan is the brother of Ravana and is a character in the epic Ramayana. Vibhishana got the boon that he will be become immortal.

6) Kripacharya

Kripacharya or Krupacharya is a main character from the epic Mahabharata. Also known as Kripa, he fought in the great battle of Kurukshetra for the Kaurava side.

7) Lord Parasurama

Lord Parasurama or Parashurama is the sixth avatar of Lord Vishnu.